Sawan Ka Dusra Somvar 2023: इस विधि करें पूजा और मंत्रों का जाप, शिव होंगे प्रशन्न

Sawan Ka Dusra Somvar 2023: देवों के देव महादेव की पूजा के लिए सावन का महीना सबसे उत्तम माना जाता है। सावन में भगवान भोलेनाथ की पूजा-अर्चना अनेक मनोरथों को पूर्ण करने वाली मानी गई है। इस माह में शिवलिंग का अभिषेक शुभ फलदाई माना गया है। कल 17 जुलाई 2023 को सावन माह के दूसरे सोमवार का व्रत है. धार्मिक दृष्टिकोण से कल सावन सोमवार का दिन बहुत ही शुभ होने वाला है. क्योंकि सावन के दूसरे सोमवार पर शुभ मुहूर्त और योगों में शिवजी की पूजा की जाएगी. सावन के दूसरे सोमवार पर हरियाली अमावस्या (Amavasya July 2023)भी रहेगी और साथ ही कई शुभ योग का निर्माण भी हो रहा है.


WhatsApp Group

Join Now

Telegram Group

Join Now

 

सावन दूसरा सोमवार- Sawan Ka Dusra Somvar 2023

कल 17 जुलाई 2023 को सावन माह के दूसरे सोमवार का व्रत है. धार्मिक दृष्टिकोण से कल सावन सोमवार का दिन बहुत ही शुभ होने वाला है. क्योंकि सावन के दूसरे सोमवार पर शुभ मुहूर्त और योगों में शिवजी की पूजा की जाएगी. सावन के दूसरे सोमवार पर हरियाली अमावस्या भी रहेगी और साथ ही कई शुभ योग का निर्माण भी हो रहा है. इस बार सावन के दूसरे सोमवार पर सोमवती अमावस्या तिथि हो रही है। सोमवती अमावस्या का आरंभ 17 तारीख को सुबह 10 बजकर 9 मिनट से होगा और रात में 12 बजकर 2 मिनट तक रहेगी। साथ ही इस दिन सूर्य कर्क राशि में गोचर करने जा रहे हैं। जिससे इस दिन कर्क संक्रांति भी है।

Sawan Ka Dusra Somvar 2023
Sawan Ka Dusra Somvar 2023

सावन सोमवार का महत्व- sawan somwar ka mahatva

sawan somwar ka mahatva: सावन मास भगवान शिव का प्रिय महीना है। इस माह के सभी सोमवार बहुत उत्तम माने जाते हैं। इस दिन जो व्यक्ति सच्चे मन से सावन सोमवार का व्रत रखकर भगवान भोलेनाथ की पूजा करता है, उसकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं।

सावन सोमवार पूजा के लाभ- Sawan Ka Dusra Somvar 2023

मान्यताओं के अनुसार, सावन के सोमवार (sawan ka somwar) का विशेष महत्व है। इस दिन किया गया पूजा पाठ निष्फल नहीं होता है। अगर किसी व्यक्ति के विवाह में बाधा आ रही है और उसके विवाह के योग नहीं बन रहा हैं तो सावन के सोमवार की पूजा करनी चाहिए। भगवान शिव का अभिषेक और माता पार्वती को श्रृंगार का सामान जरूर अर्पित करना चाहि। अगर किसी व्यक्ति के जीवन में आर्थिक परेशानियां चल रही हैं तो उनके लिए भी सावन सोमवार पूजा उत्तम फलदायी रहती है। कहा जाता है कि भगवान शिव की उपासना करने से व्यक्ति को सभी कष्टों से मुक्ति मिलती है।

इस विधि से करे पूजा भगवान् शिव होंगे खुश- Sawan Somwar Puja Vidhi

Sawan Somwar Puja Vidhi | Sawan Somvar Puja Vidhi :

  • सबसे पहले यह जरूरी है की पूजा शुभ समय पर ही करे
  • सावन के दूसरे सोमवार पर सुबह स्नान के बाद व्रत और शिवजी की पूजा का संकल्प लें।
  • गंगाजल या दूध से शिवजी का अभिषेक करें।
  • इसके बाद भगवान शिव शम्भू को को चंदन, अक्षत, सफेद फूल, बेलपत्र, भांग की पत्तियां, शमी के पत्ते, धतूरा, भस्म और फूलों की माला अर्पित करें।
  • इसके बाद शिव जी शहद, फल, मिठाई, शक्कर, धूप-दीप अर्पित करें।
  • शिव चालीसा का पाठ और सोमवार व्रत कथा का पाठ करें।
  • आखिर में शिवलिंग के समक्ष घी का दीपक जलाएं और भोलेनाथ की आरती करें।

ALSO READ:

1 thought on “Sawan Ka Dusra Somvar 2023: इस विधि करें पूजा और मंत्रों का जाप, शिव होंगे प्रशन्न”

Leave a Comment